Chhattisgarh Crime: बदमाशो ने काटी नाक, पिता को बचाते- बचाते बेटी हुई भूरे तरीके से घायल… जिला अस्पताल की गया रेफर…

शोर सुनकर बुजुर्ग खेदू बाहर निकला और लड़कों को ऐसा करने से मना किया। इस पर उन्होंने उसकी बेदम पिटाई शुरू कर दी।

Ghotiya News: पलारी थाना क्षेत्र के ग्राम छेरकापुर में युवती की आरोपियों ने नाक काट दी। हमले में गंभीर चोट लगने के बाद लड़की को जिला अस्पताल लाया गया है। संदिग्धों को अभी तक हिरासत में नहीं लिया गया है। जानकारी का दावा है कि होली के दौरान सोमवार की रात छेरकापुर गांव में नशे में धुत तीन-चार लड़के बुजुर्ग खेदू धीवर के घर के सामने मारपीट कर रहे थे ।

बूढ़ा खेदू उपद्रव की आवाज़ सुनकर बाहर आया और उसने लड़कों से ऐसा न करने को कहा। इसके बाद उन्होंने उसे बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। इसके अलावा, दोनों लड़कों ने नुकसान पहुंचाने के लिए चाकुओं का इस्तेमाल किया गया। पिता की चिल्लाने की आवाज सुनकर बेटे बीर सिंह धीवर और नरसिंह धीवर बाहर आये।

दोनों बेटे अपने पिता को बदमाश युवक से बचाने लगे। जिस पर आरोपियों ने दोनों बेटों को पीटना शुरू कर दिया। आरोपियों ने दोनों भाइयों पर चाकू से हमला कर दिया। जिससे दोनों व्यक्ति घायल हो गये।

सीने पर किया वार

दोनों के हाथ और सीने पर चाकू के घाव लगे। चाकूबाजी देख बेटी पिता को बचाने के लिए उभरी। नरसिंह धीवर की बेटी भारती अपने पिता को चाकू मारते देख बाहर आ गई। जब आरोपी ने चाकू से उसकी नाक काट दी तो लड़की गंभीर रूप से घायल हो गई। पलारी अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद परिजनों ने घायल बेटी को तुरंत जिला अस्पताल भेजा।

लड़की की हालत गंभीर थी। परिजनों ने बताया कि द्वारकाधीश साहू, होमश्वद साहू और चूड़ामणि गांव के युवक थे। घटना को साहू और चार अन्य युवकों ने अंजाम दिया था। चाकू के हमले में भारती की छोटी बहन मोनिका धीवर के हाथ में भी चोट आई है।

हालत गंभीर अस्पताल में इलाज जारी

भारती की नाक कटने के बाद से उनकी तबीयत काफी खराब है। जिला अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। घटना की रिपोर्ट पलारी थाने में कर दी गयी है, लेकिन अभी तक किसी अपराधी को हिरासत में नहीं लिया गया है। पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है। अभी तक संदेह के आधार पर किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।