Ambikapur News: पति बना हैवान, अपनी ही पत्नी की हत्या कर जला दिया शव, पति को हुआ आजीवन कारावास

Ambikapur News : लगभग दो वर्ष पूर्व फ़ावड़ा से वार कर पत्नी की हत्या पश्चात शव को जला देने के मामले में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय अग्रवाल के न्यायालय ने आरोपित पति बाबूलाल मरावी (50) को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। पत्नी की हत्या के बाद आरोपित ने साक्ष्य छिपाने का प्रयास किया था लेकिन पुत्र के घर वापस आने पर मामले का राजफाश हुआ था।
2022 में नाबालिग से बलात्कार के लिए व्यक्ति को POCSO के तहत 20 साल कैद की सजा सुनाई गई

Ambikapur News: 15 फरवरी 2022 को हुई अपनी पत्नी सावित्री उर्फ सुमित्रा मरावी की हत्या के मामले में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजय अग्रवाल की अदालत ने बाबूलाल मरावी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। बाबूलाल ने फावड़े से हमला कर उसके शव को जलाने की कोशिश की थी। सबूत छुपाने के लिए। अपराध का खुलासा तब हुआ जब उनका बेटा ज्ञान प्रकाश घर लौटा और उसने अपने पिता से अपनी मां के बारे में पूछताछ की।

शुरुआत में जानकारी से इनकार करने के बाद बाबूलाल ने हत्या की बात कबूल कर ली। बेटे और गांव के सरपंच की सूचना पर पुलिस ने आंगन से अधजले शरीर के कुछ हिस्से बरामद किए। रिश्तेदारों, गवाहों के बयान और भौतिक साक्ष्यों के आधार पर बाबूलाल पर हत्या और साक्ष्य छिपाने की धारा 302 और 201 के तहत आरोप लगाए गए। अदालत ने उसे दोषी पाया और जुर्माने के साथ आजीवन कारावास की सजा सुनाई।