Chhattisgarh News: भवनों की मरम्मत के लिए आया प्रस्ताव,छत्तीसगढ़ में 25 हजार स्कूल भवन जर्जर, रायगढ़ से सबसे अधिक दो हजार स्कूल

राज्य सरकार ने अपने बजट में केवल 101 स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की स्वीकृति दी है

Raipur Nagar News: राज्य में, लगभग 25,000 स्कूल और छात्रावास भवन जर्जर हैं और उनकी तुरंत मरम्मत की जानी चाहिए। इसकी जानकारी खुद जिला शिक्षा अधिकारियों ने स्कूल शिक्षा निदेशालय को विभाग ने निर्देश दिया है कि 15 जून तक इन स्कूलों और छात्रावासों की मरम्मत करा ली जाए।

मुख्यमंत्री स्कूल जतन योजना ने इसके लिए 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है। रायगढ़ में सर्वाधिक दो हजार विद्यालय भवनों की मरम्मत प्रस्तावित है। रायपुर में 750 स्कूल संरचनाएं हैं। नारायणपुर में सबसे कम 179 स्कूल और आश्रम हैं। इसलिए हुई थी मुख्यमंत्री स्कूल जतन योजना की स्थापना मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा घोषित मुख्यमंत्री स्कूल जतन योजना में विद्यालयों, आश्रम शालाओं, छात्रावास भवनों की मरम्मत एवं नवीन अतिरिक्त कक्षों के निर्माण के लिए है. यदि कोई इमारत उस बिंदु तक खराब हो गई है जहां उसका उपयोग करना असुरक्षित है, तो उन संरचनाओं को प्राथमिकता दी जाएगी।

इसे जिला खनिज कोष और कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) के माध्यम से वित्त पोषित किया जा सकता है। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने अपने बजट में केवल 101 स्वामी आत्मानन्द उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों की स्वीकृति दी है; शेष विद्यालयों का निर्माण कलेक्टरों के सहयोग से किया जाएगा।